पंजाब में सियासी घमासान अभी भी जारी ,कैप्टेन ने सिद्धू के खिलाफ एक बार फिर तेज किये सुर

0
26

पंजाब के सियासी गलियारे अभी भी आपसी रंजिश की आग से गर्म है। पंजाब को भले ही नया मुख्यमंत्री मिल गया है परन्तु सिद्धू और कैप्टेन के बिच अभी भी गहमा गहमी बनी हुई है। कैप्टेन को कुर्शी जाने की टीस अभी भी है। पूर्व मुख्यम्नत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने एक बार फिर सिद्धू के खिलाफ अपने शुर तेज कर दिए हैं। कैप्टेन सिद्धू के मुख्यमंत्री बनने को लेकर पहले भी विरोध कर रहे थे और अब उन्होंने कहा की अगर कांग्रेस सिद्धू को सीएम का चेहरा बनाती है तो उनके खिलाफ अमरिंदर बड़ा उम्मीदवार खड़ा करेंगे। इतना ही नहीं पहली बार अमरिंदर राहुल और प्रियंका गांधी को लेकर भी खुलकर बोले. कैप्टेन ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को अनुभवहीन बताया।

उन्होंने अपने और सोनिआ गांधी के बॉन्ड के बारे में बताते हुए कहा की उन्होंने तीन हप्ते पहले अपना इस्तीफा सोनिया गांधी को दिया था मगरउन्होने पद पर आसीन रहने को कहा था। उन्होंने कहा की सोनिआ गाँधी जो कहेंगी मैं उनका सिपाही होने के नाते अब करूँगा। वही दूसरी तरफ कैप्टेन ने राहुल गाँधी को भी निशाने पर साधा है उन्होंने कहा की दोनों गांधी भाई बहन को उनके सलाहकार भड़का रहें है जो कांग्रेस के लिए गलत शाबित होगा। चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने को लेकर उन्होंने कहा की , ‘मेरे वक्त में बहुत अच्छे पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष थे. मैंने उनसे सलाह ली लेकिन उन्होंने मुझे कभी ये नहीं बताया कि सरकार कैसे चलाना है। बहरहाल ये आपसी रंजिश फिलहाल ख़त्म होते नहीं दिख रही अब यह देखना होगा की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी कैसे सीएम बन कर उभरते हैं।