सारण जिला के अमनौर प्रखंड में एक पागल सियार के हमले से आधा दर्जन बच्चे जख्मी

0
84

ठण्ड के दिनों में अक्सर जंगली जानवरों का आतंक बढ़ जाता है जिसमे सियार भी शामिल है। दरअसल सरन जिला अंतर्गत अमनौर प्रखंड के भान पुर और गरौल में एक पागल सियार ने लोगों के दिलों में दशहत पैदा कर के रख दिया है। इस पागल सियार ने तक़रीबन आधा दर्जन बच्चों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया है। इनमे ज्यादा तर बच्चे ४ से पांच साल के हैं। हालाँकि उनका इलाज नजदीकी अस्पताल में चल रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की सियार के काटने की वजह से कई सरे प्रॉब्लम आ सकते है। इसमें से सबसे बड़ी समस्या रैबीज का है। वैसे तो रैबीज का इलाज संभव है लेकिन विश्व स्वास्थय संगठन तालिका में रैबीज से हने वाली मौते बारहवें नुबेर पर है । बहरहाल आप सभी को सावधान रहने की जरुरत है ताकि कोई जानवर आपको नुक्सान न पहुंचा पाए।