BPSC पेपर लीक मामले में EOU की बड़ी कार्रवाई, सरकारी क्लर्क समेत 4 लोगों को किया गिरफ्तार

0
32

आर्थिक अपराध इकाई के एडीजी नैयर हसनैन खान ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में कृषि विभाग का एक क्लर्क शामिल है. यह क्लर्क पेपर लीक करने वाले गिरोह का सदस्य है. इस गिरोह के पास से कई इलेक्ट्रॉनिक गैजेट और आपत्तिजनक चीजें बरामद हुई हैं. गिरोह के सदस्य के बैंक अकाउंट में लाखों रुपए का पता चला है जिसके बाद ईओयू ने बैंक अकाउंट को फ्रीज कर दिया है

पटना. बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं प्रारंभिक परीक्षा पेपर लीक मामले की जांच कर रही आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने अभी तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है. ईओयू की टीम ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आर्थिक अपराध इकाई के एडीजी नैयर हसनैन खान ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में कृषि विभाग का एक क्लर्क शामिल है. यह क्लर्क पेपर लीक करने वाले गिरोह का सदस्य है. इस गिरोह के पास से कई इलेक्ट्रॉनिक गैजेट और आपत्तिजनक चीजें बरामद हुई हैं. गिरोह के सदस्य के बैंक अकाउंट में लाखों रुपए का पता चला है जिसके बाद ईओयू ने बैंक अकाउंट को फ्रीज कर दिया है. गिरोह के चार सदस्य अभी फरार बताए जा रहे हैं. इन सभी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है.

बता दें कि आठ मई को बिहार में बीपीएससी की 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (पीटी परीक्षा) का प्रश्न पत्र लीक हो गया था. रविवार को परीक्षा शुरू होने से लगभग एक घंटे पहले सोशल मीडिया (टेलीग्राम और कई व्हाट्सएप ग्रुप) में बीपीएससी का प्रश्न पत्र वायरल होने लगा था. परीक्षा खत्म होने के बाद वायरल प्रश्न पत्रों से परीक्षा में आए सवालों का मिलान किया गया तो वायरल प्रश्न पत्र मैच कर गये. इसको लेकर अभ्यर्थियों और छात्रों ने राज्य भर में पेपर लीक को लेकर हंगामा और प्रदर्शन किया था.