सुपौल में बर्ड फ्लू की दस्तक, पशुपालन विभाग ने शुरू किया मुर्गे-मुर्गियों को मारने का काम ।

0
80

flu: छपकाही गांव को केंद्र मानते हुए 1 किमी परिधि के सभी गांवों के मुर्गे-मुर्गियों को खत्म करने के लिए पशुपालन विभाग ने 4 टीमों का गठन किया है। इस बाबत सुपौल जिले के पशुपालन पदाधिकारी राम शंकर झा बताते हैं कि सभी पक्षी पालकों को मुआवजा भी दिया जाएगा।

सुपौल. सुपौल में बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है। सदर थाना के छपकाही गांव के कुछ वॉर्डों से ली गई सैंपल में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इस पुष्टि के बाद पशुपालन विभाग ने 1 किमी परिधि के मुर्गे-मुर्गियों को खत्म करने का काम शुरू कर दिया है। साथ ही 9 किमी परिधि के इलाके की जांच शुरू कर दी गई है।

दरअसल, 2 सप्ताह पहले छपकाही गांव के वॉर्ड 1 से लेकर 11 तक में कुछ मुर्गे-मुर्गियों और बत्तखों की मौत अचानक छटपटा होने लगी थी। लोगों ने इन इलाकों में कई कौओं को भी मरा हुआ पाया था। इसके बाद पशुपालन की टीम ने गांव जाकर जांच की। फिर पटना से टीम बुलाकर कुछ इन्फेक्टड पक्षियों के सैंपल लिए इन सैंपल की जांच के बाद बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है।

बर्ड फ्लू को पसरने से रोकने के लिए ऐहतियात

पटना के पशुपालन विभाग के निदेशक के आदेश के बाद गुरुवार को डीएम कौशल कुमार और एसपी डी अमर्केश ने रैपिड रेस्पांस टीम का गठन कर पक्षियों को मारने का काम शुरू कर दिया है। वही इलाके के 1 से 9 किमी तक के सभी गांवों की पहचान करने के लिए टीम बना दी गई है, ताकि समय रहते बर्ड फ्लू को पसरने से रोका जा सके।