बिहार मे ठण्ड के साथ कोरोना की मार ,आज रात से नाईट कर्फ्यू का ऐलान इन सेवाओं में होगी छूट

0
51

बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत ने सभी को डरा दिया है। नए साल के अवसर के बाद पटना में जिस तरह कोविद मरीजों की पहचान हुई है वह आंकड़े डराने वाले हैं। नए कोविद मरीजों में कुछ मरीज बच्चे और युवा भी है। पुरे पटना में कोविद मरीजों की संख्या बढ़कर 1300 के पार जा चुकी है पिछले 24 घंटों में पटना में संक्रमितों की संख्या 544 रही है। हालाँकि इससे अभी तक किसी के मौत की खबर नहीं आई है। जिला स्वास्थ्य समिति से मिली जानकारी के अनुसार, संक्रमितों में तीन साल से 17 साल आयुवर्ग के 40 से ज्यादा बच्चे शामिल हैं। जिले में अब संक्रमितों के मिलने की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हुई है। कोरोना की कहरसे इस बार डॉक्टर्स भी खुद को नहीं बच पाए हैं पुरे पटना में 93 डॉक्टर संक्रमित मिले हैं। इसमें नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल (एनएमसीएच) के 59 डॉक्टर शामिल हैं। बढ़ते मामलों को देखते हुए बिहार सरकार ने नाईट कर्फ्यू के साथ कुछ और नियमों को लागू किया है।

नए कोरोना गाइडलिनेस के अनुसार बिहार में छह से 21 जनवरी तक के लिए रात्रि कर्फ्यू रहेगी। रात 10 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तकनिघत कर्फ्यू लगेगी इसके अलावे आठवीं कक्षा तक स्कुल और तुशंस बंद रहेंगे और उसके ऊपर के कक्षाओं और कॉलेज में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही कक्षा चलाया जाएगा। सरकार ने टीचर्स से कहा की ऑनलाइन शिक्षा को प्राथिमकता दी गई है इसके अलावे मंदिर और पूजा स्थल बंद रहेंगे। इसके अलावे यात्रा से भी सम्बंधित कुछ नियमों को लगाया गया है। मालवाहक वाहनों पर रोक नहीं रहेगी। वैसे निजी वाहन जिनमें हवाई जहाज, ट्रेन के यात्री यात्रा कर रहे हों और उनके पास टिकट हो, पर रोक नहीं होगी। साथ ही, काम पर जाने वाले सरकारी सेवकों और अन्य आवश्यक सेवाओं के निजी वाहन तथा अंतरराज्यीय मार्गों पर अन्य राज्यों को जाने वाले निजी वाहन चल सकेंगे। विवाह और श्राद्ध कार्यक्रम में केवल 50 प्रतिशत क्षमता ही उपस्थित हो सकती है ,दवा दुकानों को छोर सभी दुकाने रात्रि 8 बजे तक बंद हो जाएंगी। इसके अलावे सरकार ने मास्क पहनने पर जोड़ दिया ह। यह सारे फैसले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार शाम को हुई आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में लिया गया। गौरतलब है की जिसतरह कोरोना की तीसरी लहर बिहार को अपने चपेट में ले रहा है उसे देखते हुए इन नियमो का पालन करना आवशयक है।