पिछले 24 घंटो में कोरोना से होने वाले मौत के आंकड़े बेहद डरावने इसी बिच दिल्ली के बाजारों को मिलेगी छूट।

0
126

कोरोना से मरने वाले लोगों की बढ़ती संख्या अब डराने वाली हो गई है। देश में बढ़ते कोरोना संख्या के साथ मौत के आंकड़े भी लगातार बढ़ रहे है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,34,281 नए मामले सामने आए है वही अगर कोरोना से होने वाले मौत पर नजर डाले तो पिछले 24 घंटे में कोरोना से मरने वाले की 893 रही है। हालाँकि प्रतिदिन संक्रमित केस के आंकड़ों में हलकी गिरावट देखि गई है। शनिवार के मुकाबले आज के केस में 0.5 प्रतिशत की गिरावट हुई है। अगर राज्यों की बात करे तो नए कोरोना संक्रमण के मामले में केरल सबसे ऊपर दिखाई दे रहा है। यहाँ प्रतिदिन संक्रमण के केस 50 हजार से ऊपर रहा रहा है। अले केरल में कुल संक्रमण का 21.69% केस ब्यापत है जो निश्चित ही काफी केरल सरकार और भारत सरकार के लिए चिंता का विषय है।

केरल के अलावे कर्नाटक में 33,337, महाराष्ट्र में 27,971, तमिलनाडु में 24,418 और गुजरात में 11,794 केस आए हैं. 63.31% नए मामले इन पांच राज्यों से सामने आए हैं। अगर कोरोना से ठीक होने वालों पर नजर डाली जाए तो भारत का रिकवरी रेट अब 94.21 फीसदी हो गया है. पिछले 24 घंटों में कुल 3,52,784 मरीज ठीक भी हुए हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के वजह से जिन राज्यों में लगाईं गई पाबन्दी में अब धीरे धीरे छूट दी जा रही है। इसमें दिल्ली सरकार भी शामिल है। कोरोना के वजह से दिल्ली के कुछ बाजारों ऑड इवन के तहत पाबन्दी लगा दी गई थी जिसे अब ख़तम कर दिया गया है। दिल्ली हेल्थ एसोसिएशन ने लोगों से सतर्कता बरतने की बात की है। और अब जब बाजारों में लागू ऑड इवन और वीकेंड कर्फ्यू को ख़तम कर दिया गया है तो हेल्थ एसोसिएशन की भी परेशानिया बढ़ सकती है।

फिलहाल दिल्ली में केस की बात करे तो यहाँ प्रति दिन कोरोना से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या 5 से 6 हजार के बिच रह रही है जो दिल्ली की तरह बड़े मेट्रोपोलिटन सिटी के मुकाबले काफी कम है केजरीवाल सरकार ने इसी आंकड़े को देखते हुए यह फैसला लिया है। कोविद नियमो के पालन की लिए भी दिल्ली सरकार लोगों से अपील कर रही है।