फोर्ड इंडिया कंपनी के जाने से भारत को हो सकता है यह घाटा

0
17

जहाँ एक तरफ भारत कोशिश कर रहा है की ज्यादा से ज्यादा विदेशी निवेश भारत में हो तो दूसरी तरफ कुछ विदेशी कम्पनिया घाटे के कारन भारत में अपना ब्यापार बंद कर रही है । इंडियन एक्सप्रेस के कल के एक खबर के मुताबिक़ भारत में फोर्ड कारों की मैन्युफैक्चरिंग जल्द ही बंद होने जा रही है । फोर्ड इंडिया के कथन के मुताबिक़ वह काफी घाटे में चल रही है इस लिए अमेरिकी कंपनी फोर्ड ने भारत में चल रही दोनों फोर्ड मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों को बंद करने का फैसला लिया है ।न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की खबर के मुताबिक फोर्ड का बिजनेस अब उसे यहां फायदा नहीं दे रहा है. लिहाजा उसने अपने यहां ऑपरेशन बंद करने का फैसला किया है.।आने वाले एक साल में कंपनी अपना सारा बोरिया बिस्तर समेत कर भारत छोर देगी ,हालाँकि फोर्ड के तरफ से यह बयान आया है की उसके डीलर भारत में मौजूद रहेंगे और आयत के जरिये गाड़ियों की बिक्री होती रहेगी और साथ ही बेचीं गई कारों का सर्विस भी दिया जाता रहेगा ।


यह पहली बार नहीं है जब भारत में कोई कार कंपनी अपने सर्विस को बंद कर रही है इसके पहले जनरल मोटर्स और हार्ले डेविडसन ने भी भारत से अपना मुँह मोड़ लिया था । भारत के अर्थव्यवस्था के लिए यह निश्चित रूप से एक झटका है । दरअसल जब कोई विदेशी कंपनी भारत में अपना बिसनेस या ब्रांच शुरू करती है तो भारत को टैक्स के रूप में अच्छा ख़ासा फायदा दे जाता है ऐसे में अगर भारत से एक एक करके सभी कम्पनिया बाहर जाती रही तो निश्चित ही भारत के अर्थव्यवस्था पर एक बड़ा संकट घिर आएगा ।