भारत कल से संभालेगा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कमान ,इस वजह से डरा है पाकिस्तान

0
149

भारत को भले ही प्रगतिशील देश की सुचि से हटा दिया गया हो मगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया के नजर में एक मजबूत और एक अच्छे प्रतिनिधि के तौर पर उभरा है । भारत के इस काबिलियत को इस बात से समझा जा सकता है की विश्व की सबसे शक्तिशाली संस्‍था संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कमान अब भारत के हाथों में आ गई है । भारत २ अगस्त से पुरे एक महीने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कमान संभालेगा । इस महीने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता सँभालने के दौरान यह समुद्री सुरक्षा, शांति स्थापना की कवायद करने और आतंकवाद पर कड़ा प्रहार करने को तैयार है। भारत 1 जनवरी, 2021 से सुरक्षा परिषद् के एक अस्थायी सदस्य के रूप अगले दो साल के लिए कार्यरत है । यह सुरक्षा परिषद के गैर स्थायी सदस्य के तौर पर 2021-22 कार्यकाल के दौरान भारत की पहली अध्यक्षता है।

भारत अगले साल दिसंबर में फिर से सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता करेगा। कल यानी २ अगस्त से भारत के पूर्व आईएएस टी एस तिरुमूर्ति हीने भर के लिए परिषद के कार्यक्रमों पर संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में मिश्रित संवाददाता सम्मेलन करेंगे यानी कुछ लोग वहां मौजूद होंगे जबकि अन्य वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए जुड़ सकते हैं। संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी कार्यक्रम के मुताबिक तिरुमूर्ति संयुक्त राष्ट्र के उन सदस्यों देशों को भी कार्य विवरण उपलब्ध कराएंगे जो परिषद के सदस्य नहीं हैं। भारत के हाथ में युक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कमान आने के बाद सबसे ज्यादा दर पकिस्तान को लग रहा है। क्यूंकि इस वक महीने के दौरान भारत आतंकवाद के खिलाफकुछ फैसले ले सकता है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है की उन्हें उम्मीद है की भारत निष्पक्ष हो कर अपना कार्यभर संभालेगा । पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तरफ से इस तरह के बयान से यह अंदाजा लगया जा सकता है की पाकिस्तान कितना डरा हुआ है ।