नितीश और तेजस्वी का आज होगा सामना , कौन सी पकेगी खिचड़ी

0
36

बिहार में जातीय जनगणना को ले कर आज मुख्यमंत्री नितीश कुमार और पूर्व उप मुख्यमंत्री व् नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की आज मुलाक़ात होने जा रही है ।सूत्रों के मुताबिक अब से कुछ ही देर में यह बैठक शुरू होगी । बिहार में जातीय आधार पर जांगना हो इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री लालूप्रसाद यादव अपने शाशनकाल से ही इसकी मांग करते आ रहें हैं । अब उनकी मांगों को आवाज देने का काम उनके बेटे तेजस्वी यादव कर रहें है । हालाँकि मुख्यमंत्री नितीश कुमार भी इसकी मांग की है ।यही कारण है की नितीश और तेजस्वी मिल कर इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे । आपकी जानकारी के लिए आइये समझते की आखिर क्यों बिहार सरकार और विपक्ष दोनों जातीय आधार पर जनगणना की मांग कर रहे हैं , तो केन्द्र सरकार ने कह दिया है कि वह सिर्फ एससी-एसटी की ही जनगणना कराएगी। जिसके बाद मुख्य मंत्री नितीश कुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने केंद्र सर्कार के फैसले का विरोध किया है ।

अनुमान लगाया जा रहा है कि जनगणना हुई तो पिछड़ी और अतिपिछड़ी जातियों की जनसंख्या और अगड़ी जातियों की जनसंख्या का बिल्कुल सही-सही आंकड़े सामने आए जाएंगे। इससे राजद, जदयू जैसी क्षेत्रीय पार्टियों की ताकत बढ़ सकती है। यह सीधे तौर पर वोट बैंक का मामला है। हालाँकि केंद्र सरकारने इनकी मांगो को ख़ारिज कर दिया है । जिसके तेजस्वी यादव ने कल विधान सभा में दो मांगे राखी और कहा की या तो मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में सर्वदलीय समिति प्रधानमंत्री से मिले या बिहार सरकार अपने खर्चे पर बिहार में जातीय जनगणना कराये ।इसी को ले कर आज दोपहर एक बजे बैठक हो रही है । गौरतलब है की इस विधयेक का प्रस्ताव बिहार विधानमंडल में दो बार 18 फरवरी 2019 और 27 फरवरी 2020 को सर्वसम्मति से पारित किया जा चुका है और इसे केन्द्र सरकार को भेजा जा चुका है। अब देखना यह होगा की आज के बैठक का क्या परिणाम आता है । फिलहाल के हलचल में इतना ही देखते रहें टीडी न्यूज़ ।