Ep26 | Crime in Camera |ऑक्सिजन का बड़ा दलाल निकला बिहार के नालंदा का छोटू चौधरी,देश में करता रहा ठगी

0
164

हम आपको बता रहें हैं कि बड़ा शातिर निकला नालंदा का ये छोटू, दिल्‍ली-मुंबई के कोरोना पीड़तों की सांसों के नाम पर कर रहा था ठगी। जी हाँ एक ओर लोग कोरोना महामारी की विपदा झेल रहे थे तो दूसरी ओर कुछ लोग ऐसे भी थे जो आपदा में अवसर की तरह काम कर रहे थे। ऐसे ही एक व्‍यक्ति को पुलिस ने दबोचा है। मानपुर थाना क्षेत्र के पलनी गांव निवासी छोटू चौधरी नाम के इस ठग को नालंदा पुलिस ने सारे थाना क्षेत्र के बहादुरपुर गाव से पकड़ा है। वह अपने एक रिश्‍तेदार के यहां छिपा था। छोटू चौधरी दिल्ली, एनसीआर व मुम्बई के लोगों से आक्सीजन सिलिंडर के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने वाले गिरोह का मुख्य आरोपित है। उसके गिरोह के अन्‍य सदस्‍य भी पकड़े गए हैं। उन्‍हें दिल्‍ली पुलिस अपने साथ ले गई है।
आपको बता दें कि

डीएसपी डाॅ. शिब्ली नोमानी ने बताया कि दिल्ली साइबर सेल की टीम व नालंदा पुलिस के सहयोग से छोटू चौधरी की गिरफ्तारी संभव हो पाई है। इस गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। बता दें कि छोटू चौधरी गिरोह ने आक्सीजन सिलेंडर के नाम पर मजबूर लोगों से लाखों रुपये की ठगी की थी। कई लोगों को अपना शिकार बना लिया। इसकी शिकायत मिलने के बाद दिल्‍ली पुलिस हरकत में आई। जब जांच-पड़ताल शुरू की तो सरगना का तार नालंदा जिले का मिला। इसके बाद रणनीति बनाकर पुलिस ने इन्‍हें दबोचा है। आपको बताते चले कि कई दिनों तक नालंदा में कैंप कर रही थी पुलिस जी हाँ छोटू चौधरी की तलाश में दिल्ली पुलिस कई दिनों तक नालंदा में कैंंप करती रही। अब तक की कार्रवाई में दिल्ली व नालंदा पुलिस ने छोटू चौधरी गैंग के छह बदमाशों को पकड़ा ह। सभी को अपने साथ दिल्ली ले गई है। गिरफ्तार आरोपितों में बिहार थाना क्षेत्र के नरसलीगंज निवासी मिथिलेश कुमार,शेखपुरा जिला के शेखोपुरसराय निवासी पंकज कुमार,दीपनगर थाना क्षेत्र के बिजवनपर निवासी दीपक कुमार, बिहार थाना क्षेत्र के महलपर निवासी श्रवण माली, कतरीसराय निवासी दीपक कुमार और राजेश कुमार शामिल है।
अब देखना यह हैं कि मजबूर लोगों कि सांसों की दलाली करने वाले इस घिनौने आरोपियों पर क्या कानूनी कार्यवाई होती हैं।