अपराधी कौन ? उलझती जा रही है महंत नरेंद्र गिरी के आत्महत्या की गुत्थी

0
52

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद् के महंत नरेंद्र गिरी की सुसाइड मिस्त्री और भी पेंचीदा होती जा रही है। पुलिस को अब उन फोटोज और वीडिओज़ की तलाश है जिससे नरेंद्र गिरी को दर था जिसके वजह से उन्होंने आत्महत्या कर ली। उत्तरप्रदेश की सर्कार ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। इस मामले के मुख्या आरोपी और महंत का प्रिय शिष्य रह चुके आनंद गिरी अभी पुलिस के हिराशत में है। उसपे महंत को ब्लैकमेल करने का आरोप है। दरअसल महंत के बाकी शिष्यों ने आनंद पर यह आरोप लगाया है की आनंद के पास कुछ ऐसे फोटोज और वीडिओज़ हैं जिससे वह महंत को ब्लैकमेल करता था जो उनके आत्महत्या का कारण बनी है।

हालाँकि पुलिस ने आनंद के तीन मोबाइल फ़ोन्स को जब्त कर उसे जांच के लिए भेज दिया है साथ ही उस फ़ोन की भी फोरेंसिक जांच हो रही है जिसमे नरेंद्र गिरी ने मरने से पहले 50 सेकंड का वीडियो बनाया था। पुलिस ने महंत द्वारा लिखे सुसाइड नोट को भी जांच के लिए भेज दिया है। महंत नरेंद्र गिरि के कमरे से उनकी राइटिंग के कुछ नमूने पुलिस ने सील किए हैं जिससे सुसाइड नोट की लिखावट का मिलान किया जा सके। सच्चाई क्या है यह जांच के बाद ही पता चल पायेगा हम आपको इस केश से जुडी हर खबर को आप तक पहुंचते रहेंगे तब तक देखते रहिये टीडी न्यूज़