इन दिनों दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के कई राज्य प्रचंड गर्मी की चपेट में है।

0
63

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक कई जगहों पर अगल कुछ दिनों तक मौसम का मिजाज ऐसे ही बना रहेगा। जबकि कुछ इलाकों में आज मौसम का मिजाज बिगड़ सकता है। दरअसल पिछले कुछ दिनों पाकिस्तान की ओर से चल रही शुष्क और गर्म पछुआ हवाओं की वजह से उत्तर-पश्चिम भारत के कई हिस्सों में जबरदस्त गर्मी पड़ रही है।

दरअसल आईएमडी ने अगले तीन दिनों में पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भारी बारिश की संभावना जताई है। इसके साथ ही अगले 2 दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम, मध्य और आसपास के पूर्वी भारत के अलग-अलग हिस्सों में लू (Heatwave) चलने की संभावना है।

जैसे की मौसम विभाग के अनुसार उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड, तेलंगाना और मध्य प्रदेश के कई इलाकों को आज भी लू का सामना करना पड़ेगा। मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली के लोगों को सप्ताहांत में लू से राहत मिलने की संभावना है।

मौसम विभाग ने अगले 5 दिनों के दौरान अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। आइएमडी ने बताया कि 10 और 11 जून को अरुणाचल प्रदेश और मेघालय के अलग-अलग स्थानों में भारी बारिश होगी। साथ ही आईएमडी का कहना है कि अरब सागर से आने वाली पश्चिमी हवाओं के कारण अगले चार से पांच दिनों के बीच कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में भारी बारिश की संभावना है।

मध्य अरब सागर के कुछ हिस्से, गोवा, दक्षिण महाराष्ट्र के कुछ हिस्से, कर्नाटक के कुछ हिस्से, तमिलनाडु के शेष हिस्से, दक्षिण आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्से, पश्चिम-मध्य और उत्तर-पश्चिम के कुछ हिस्से और अगले 48 घंटों के दौरान बंगाल की खाड़ी में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं।

स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष महेश पलावत का कहना है कि मानसून के दिल्ली में सामान्य तारीख 27-28 जून के आसपास पहुंचने की संभावना है और अभी ऐसी कोई बाधा नजर नहीं आती, जो इसकी प्रगति को रोक सके। उन्होंने कहा कि एक या दो सप्ताह में तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी।