मकर संक्रांति क्यों है आपके लिए ख़ास ,आपके जीवन में क्या है इस त्यौहार का महत्व

0
45

14 जनवरी यानी आज पुरे देश में मकरसंक्रांति के त्यौहार का मनाया जा रहा है। दही चुरा के साथ गुड़ की मिठास में लिपटा हुआ यह त्यौहार कई मायनो में हमारे जीवन के लिए ख़ास है। पतंगों के धागों की ढील इस त्यौहार के उड़ान को और ऊंचा का देती है। एक नए और सुबह महीने के स्वागत इस त्यौहार को और भी ख़ास बना देता है। तो चलिए आइये जानते हैं की आखिर हमारे जीवन में मकर संक्रांति का क्या महत्व है। तो दरअसल मकरसंक्रांति सूर्य के मकर राशि में प्रवेश कर जाने के बाद मनाया जाता है। इस दिन से मलमास खत्म होने के साथ शुभ माह प्रारंभ हो जाता है। इस खास दिन को सुख और समृद्धि का दिन माना जाता है। इसके अलावे मकर संक्रांति के साथ कई अन्य पौराणिक कथाये भी जुड़े हुए हैं। कहा जाता है की आज के दिन ही भगवान् आशुतोष ने भगवान् विष्णु को आत्मज्ञान दिया था ,महाभारत के अनुसार भीष्म पितामह ने आज के ही दिन अपनी देह का त्याग किया था। इसके अतिरक्त देवता गांव की गणना आज के दिन से ही शुरू हो जाती है। कहा यह भी जाता है की आज के दिन ही गंगा , भागीरथी के पीछे पीछे चल कर कपिल मुनि के आश्रम तक पहुँच गई थी। इसलिए आज के दिन गंगा में स्नान को पवित्र माना जाता है और आज के दिन स्नाअन दाएं दिया जाता है। इसके अलावे अगर हम भौगोलिक दृष्टिकोण से देखे तो आज के दिन के बाद से ही ग्रीष्म ऋतू का प्रारम्भ हो जाता है। क्यूंकि सूर्य अब उत्तरी गोलार्ध के तरफ धीरे धीरे बढ़ने लगता है।

ऐसी मान्यता है की आज के दिन देवता धरती पर आते हैं और लोगों को मोक्ष प्रदान करते है। आज के दिन दान दक्षिणा देने से लोग पुण्य के भागी बनते है और उनपे देवताओं की दृष्टि बानी रहती है। आज के दिन लोग सुबह स्नान कर सूर्य की उपासना करते हैं उसके बाद घुस ,चावल और तिल को दान देते है। मकरसंक्रांति परतील कबाड़ा महत्व हो जाता है। आज के दिन लोग तिल को दान देने के साथ साथ उसका सेवन भी करते है इसके पीछे धार्मिक कारन के साथ साथ वैज्ञानिक कारन भी है सर्दी के मौसम में जब शरीर को गर्मी की आवश्यकता होती है और तिल सरीर को गर्माहट प्रदान करता है क्‍योंकि तिल में तेल की मात्रा बहुत ज्यादा होती है. इसी प्रकार गुड़ की तासीर भी गर्म होती है. तिल व गुड़ के व्यंजन सर्दी के मौसम में हमारे शरीर में आवश्यक गर्मी पहुंचाते हैं. यही कारण है कि मकर संक्रांति के अवसर पर तिल व गुड़ के व्यंजन प्रमुखता से बनाए और खाए जाते हैं। बहरहाल आजके दिन आप भी गुड़ और तिल का सेवन करे और स्वस्थ्य रहें। टीडी न्यूज़ के परिवार के तरफ से मकर संक्रांति की ढेर साड़ी शुभकामनाएं।