चुनाव से पहले कानपुर को मिलेगा मेट्रो की सौगात ,प्रधानमन्त्री आज नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन

0
20

उत्तरप्रदेश पर आज कल विकास की मानो जैसे फूल ही बरस रहे है। गौरतलब है की उत्तरप्रदेश चुनाव बेहद नजदीक है ऐसे में जनता को लुभाने का हर प्रयास राजनितिक पार्टियों द्वारा किया जा रहा है। और इस होड़ में सबसे आगे बीजेपी दिख रही है ,हालाँकि इन सब से फायदा जनता को ही हो रहा है। इसी क्रम में आज प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कानपुर को आज मेट्रो की सुविधा गिफ्ट करने वाले हैं। जी हाँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज कानपुर में मेट्रो सेवा का उद्घाटन करेंगे इसके साथ ही वह कानपुर iit के दीक्षांत समारोह में भी शामिल होंग। इन सब के बाद वह एक जान सभा को भी सम्बोधित करने वाले हैं। बता दें कि पीएम मोदी कानपुर मेट्रो के पहले फेज की शुरुआत करेंगे. यह आईआईटी कानपुर से मोती झील तक पूरा 9 किलोमीटर लंबा खंड है। कानपुर में मेट्रो रेल परियोजना की पूरी लंबाई 32 किलोमीटर है, और इसे 11,000 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाया जा रहा है।

अगर कानपुर के चुनावी समीकरण को देखा जाए तो कानपुर की लोकप्रिय सीट किदवई नगर पार्टियों के नजर में रहेगी। 2012 के परिसीमन में इस विधानसभा को बनाया गया था इसके पहले यह गोविन्द नगर सीट विधान सभा के ही अंतर्गत आता है ,पहले विधान सभा चुनाव में यहाँ से कांग्रेस के लोकप्रिय नेता अजय कपूर को जित मिली थी। फिर २०१७ के विधान सभा चुनाव में बीजेपी की तेज आंधी ने सब कुछ उखाड़ कर फेंक दिया और भाजपा नेता महेश त्रिवेदी को जित मिली। इस जित के पीछे का भी कारन जातीय समीकरण ही माना जा सकता है। दरअसल कानपूर के गोविन्द नगर और किदवई नगर में ब्राह्मण समुदाय के लोगों की संख्या ज्यादा है ,और उत्तरप्रदेश के अन्य इलाकों के मुताबिक ही यह भी ब्राह्मण वोटो का एक बड़ा काफिला बीजेपी के खाते में है। हालाँकि इन दोनों इलाको में या यूँ आहे की पुरे कानपूर में कांग्रेस और सपा की भी वोट बैंक है मगर जातीय समीकरण को देख कर यह कहना गलत नहीं होगा की आगामी चुनाव में भाजपा का बर्चास्वा यहाँ ज्यादा हो सकता है। प्रधान मंत्री नरेंद मोदी कानपुर को मेट्रो का गिफ्ट दे कर कानपुर के चुनावी घोड़े को अपनी तरफ मोड़ना चाहते हैं। हालाँकि मेट्रो परियोजना की नीव पहले ही राखी जा चुकी थ। बहरहाल अभी के यूपी चुनाव में इतना ही देखते रहें टीडी न्यूज़।