मधुबनी में आश‍िक की दीवानगी में मह‍िला ने पार की सारी हदें, बन गई पत‍ि का कात‍िल

0
18

शादी के बाद भी पत्‍नी ने आश‍िक के चक्‍कर में दीवानगी की सारी हदें पार कर दी। झंझारपुर की एक मह‍िला पर आश‍िक के चक्‍कर में पत‍ि की हत्‍या कराने को आरोप लगा है। भैरवस्थान थाना के मेंहथ में एसएच किनारे गला रेतकर युवक की हत्या मामले में उसके चचेरे भाई भगवतीपुर निवासी महबूब आलम ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। दर्ज प्राथमिकी में मृतक मो. मासुक की पत्नी जसीमा खातुन, उसके ससुर झंझारपुर के कन्हौली निवासी मो. हीरा, साला मो. बब्लू, मो. कादीर, मो. सादीर, मो. वारिक, सास हदीशा खातुन एवं रैयाम गांव निवासी मो. सोनू को आरोपित किया गया है।

प्राथमिकी में आरोप लगाते हुए कहा गया है कि 14 सितंबर की रात उपर्युक्त सभी लोग भगवतीपुर के मनटोला में मो. मासुक के घर आए थे। सबों में विवाद चल रहा था। सब मिलकर जबरदस्ती फैसला करने के नाम पर मो. मासुक को ले गए और 15 सितंबर की सुबह में उसका गला रेता शव मिला। प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि रैयाम गांव निवासी मो. सोनू का मृतक की पत्नी जसीमा खातुन के साथ अवैध संबंध है जिस कारण मृतक और उसकी पत्नी में दो-तीन वर्ष से अनबन चल रही थी।

इधर, भैरवस्थान पुलिस ने मृतक की आरोपित सास हदीशा खातुन को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि एक दिन पहले युवक का शव सड़क किनारे झाड़यों में पड़ा मिला था। शव मिलने के बाद से ही इसे हत्या का मामला बताया जा रहा था। घटनास्थल पर काफी मात्रा में खून के निशान मिले थे। युवक का गला रेता हुआ था। पुलिस भी मान रही थी कि युवक की गला रेत कर बेरहमी से हत्या की गई और शव को झाड़ियों में छुपा दिया गया था। शुरूआत में शव की पहचान नहीं हो सकी थी, लेकिन बाद में उसकी पहचान पंडौल प्रखंड के भगवतीपुर निवासी के रूप में हुई। शव की पहचान होने के साथ ही धीरे-धीरे पूरा मामला सामने आने लगा।