माँ बाप ने ठुकरा दिया, अपने पैर पर खड़ी की अपनी दुनिया, जानिये दो जुड़वे बच्चों की सफलता की कहानी

0
39

हम अक्सर सुनते हैं की जिनका कोई नहीं होता उनका भगवान् होता है और कभी कभी यह दिख भी जाता है ।दरअसल पंजाब के दो जुड़वे भाइयों की नौकरी इसी बात के इर्द गिर्द घूम रही है । पंजाब के अमृतसर में दो जुड़वे भाइयों सोहना और मोहना को पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड में नौकरी मिली है । सोहना और मोहना एक दूसरे से जुड़े हुए हैं । सोहना-मोहना का जन्म 14 जून 2003 को नई दिल्ली के सुचेता कृपलानी अस्पताल में हुआ था. बाद में उन्हें एम्स में ट्रांसफर कर दिया गया गरीबी के कारण सोहना और मोहना के माता पिता ने उन्हें छोर दिया जिसके बाद डॉक्टर्स ने पिंगलवाड़ा चैरिटेबल सोसाइटी की मदद से इन्हे घर दिया गया ।

हालाँकि इस बात का दुःख दोनों में से किसी को नहीं है । उन्होंने हाल ही में इलेक्ट्रिकल डिप्लोमा पूरा किया था जिसके बाद उन्हें पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड में नौकरी मिली है । बता दें, इन दोनों जुड़वा भाइयों के दो दिल, दो जोड़ी गुर्दे, दो जोड़ी हाथ और रीढ़ की हड्डी है लेकिन एक ही लीवर, पित्ताशय, प्लीहा और एक जोड़ी पैर है। दोनों एक दूसरे के साथ जुड़े रहने में खुस है। जानकारी के मुताबिक़ अब उन्हें प्रति माह २० हजार रुपये मिलने वाले हैं । दोनों अपने इस नौकरी से काफी खुश है ।।.