2041 में कैसी हो आपकी राजधानी आप भी दे सकते हैं सुझाव।

0
90

दिल्ली डेवलपमेंट अथॉरिटी यानी DDA  ने एक बार फिर अपने 20  साल के  मास्टर प्लान को लेकर जनता से पूछा है की 2041 में आखिर कैसी हो आपकी दिल्ली। आम जनता की मदद से दिल्ली सरकार ने मास्टर प्लान बनाने की पहल शुरू कर दी है। जनता से सुझाव मांगते हुए DDA ने कहा की 2041  में आपकी दिल्ली किन किन सुविधाओं से लैस हो इसकी जानकारी आप हमें दे ताकि हम दिल्ली को बेहतर से भी बेहतर बनाने की कोशिश कर सकें। इसके लिए आम जनता DDA के ऑफिसियल वेबसाइट पर जा के अपनी राय दे सकती है। इन सुझावों के मदद से DDA आने वाले 20  सालों में दिल्ली में सड़क,साधन ,स्वस्थ्य व्यवस्थाएं ,शिक्षा ,टेक्नोलॉजी आदि का विकाश करेगी। DDA के ऑफिसियल वेब पोर्टल पर आप 45  दिनों के भीतर अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं जिसके बाद DDA अपने विशेषज्ञों की मदद से मास्टर प्लान की शुरुआत करेगा। आप [email protected] पर भी अपनी सुझाव ईमेल कर सकते हैं।

Delhi Development Authority - Wikipedia

दिल्ली के लिए DDA हर 20  साल पर मास्टर प्लान बनता है जिसके आधार पर आने वाले 20  सालों में दिल्ली के विकास के आयाम को तय किया जाता है। दिल्ली के लिए सबसे पहले मुख्या योजना यानी मास्टर प्लान सन 1962  में तैयार किया गया था उसके बाद 2001  में और अब 2021  में तय किया जा रहा है। इस योजना को दो हिस्स्से में संपन्न किया जाएगा।  पहले हिस्से में दिल्ली के मौजूदा हालात को देखते हुए 2041  तक के मास्टर प्लान में काम किया जाएगा जिसमे ,पर्यावरण ,अर्थव्यवस्था ,हिस्टोरिकल मोन्यूमेंट ,संस्कृति ,सार्वजनिक स्थान आदि शामिल है जबकि दूसरे हिस्से में बढ़ती आबादी को देखते हुए आगे के फैसले लिए जाएंगे। जिसपर DDA ने आम जनता से सुझाव माँगा है।

Delhi Development Authority on Twitter: "#ConstitutionDay2020 Shri Anurag  Jain, Vice Chairman DDA administered reading the Preamble of Constitution  at DDA Head Office Vikas Sadan to commemorate the adoption of the  Constitution of

DDA के मास्टर प्रोजेक्ट को दिल्ली का सुनहरा भविस्य बताते हुए बिधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह ने कहा की समाज के हर वर्ग के लोगों को सुझाव देने के लिए आगे आना चाहिए ताकि दिल्ली उनके सोच के अनुसार बने। अब DDA जिस भी प्लान के जरिये दिल्ली को विकसित करे पर एक चीज जो दिल्ली की जनता निश्चित तौर पर मांग करेगी वो है स्वक्ष वातावरण क्यूंकि दिल्ली के मौजूदा हालात को देख कर यह कहा जा सकता है की दिल्ली को अभी सुद्ध हवा की जरुरत है